बड़ी खुशखबरी, SSC ने जारी किया CGL 2018 result देखिए फाइनल cut off

SSC ने बहूत दिनों का इन्तेज़ार खतम करते हुए CGL 2018 का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया

The Staff Selection Commission conducted Tier-III (Written Examination) of CGLE 2018 on
29.12.2019. A total of 50293 candidates were declared qualified for appearing in Tier-III
(descriptive paper) of the Examination, out of which 41803 candidates appeared in the aforesaid
Examination.

  1. As per the Notice of the Examination, “the candidates who score minimum qualifying
    marks, as fixed by the Commission, in Tier-III Examination will be eligible to appear in Skill Tests
    and Document Verification. Based on the aggregate performance in Tier-I, Tier-II and Tier-III
    Examinations, candidates will be shortlisted to appear in Document Verification and Skill Tests
    i.e. Computer Proficiency Test (CPT) and Data Entry Speed Test (DEST)”. For TIER III examination,
    minimum qualifying marks has been fixed as 33 for all categories.
  2. Based on the marks in Tier-I, Tier-II and Tier-III, candidates have been shortlisted for
    the next stage of examination. Details of candidates qualifying in Tier-III for appearing in
    Document Verification (DV) and Skill Test/DV are as per lists

सभी की होगी परीक्षा नहीं किए हैं पास देखिए UGC की guidelines

प्रमोट किए गए प्रथम वर्ष के स्टूडेंट्स की भी होगी परीक्षा कभी भी हो सकती है परीक्षा

UGC की guidelines :-

UGC की नई guidelines जारी की बताया गया है कि अगर किसी को बिना परीक्षा के प्रमोट किया तो भविष्य मे उनकी डिग्री पर भी खतरा पड सकता है UGC के अनुसार परीक्षा ले रहे सभी कक्षाओं मे जो विद्यार्थि प्रमोट किए गए हैं उनकी परीक्षा ली जाएगी

CRSU के निर्देश :-

जिले के 15 B. Ed कॉलेज के प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों की भी परीक्षा लेगी सभी को परीक्षा देनी होगी चाहे वो कुछ दिनों के बाद ही ली जाए अगर कोई विद्यार्थि बिना Exam दिए डिग्री ले लेता है तो बाद मे उसकी डिग्री और भविष्य खतरे मे पड़ सकता है तो ऐेसे मे आप सभी अपने Exam की तयारी करते रहे

RRB NTPC 01/2019 // जानिए क्या आपका फॉर्म रिजेक्ट तो नहीं हुआ

RRB NTPC 01/2019 scrutiny of application form has been completed and candidates can view the status of their application number

  1. Provisionally eligible
  2. Rejected status of application can be viewed through the link provided on the website of respective RRBs

SMS and Email will be sent to the candidate registered mobile number

The link will be active from 21/09/2020 to 30/09/2020

RRB regret inability to entertain any correspondence from ineligible candidates

Candidates are advised to refer only to the official website of RRBs for latest update on the recruitment process

UGC NET NEW EXAM DATE ANNOUNCED 2020 CHECK NOW

National testing agency will be conducting ICAR Examination AIEEA-UG/PG And AICF-JRF/SRF(PH. D) On 16, 17,22,and 23 September 2020.

UGC-NET examination will be now held from 24th September onwards this is due to some common candidates in both exam and the request received thereof

डॉ. अम्बेडकर मेधावी छात्रवृत्ति संशोधन योजना 2020-21, के लिए जल्दी करे apply

क्या होंगे नियम और शर्तें :-

  1. अनुसूचित जाति व विमुक्त जाति,घुमन्तू व अर्ध घुमन्तू व टपरीवास जाति .:-
    Class. Rural. Urban
    10th. 60%. 70%
    10+2. 70% 75%
    B.A . 60%. 65%
    प्रोत्साहन राशि इस प्रकार हैं :-
    10th पास को Rs.8000/-,
    10+2 पास को Rs.8000 व 9000/-और B.A. पास को Rs.9000/-से 12000/-तक प्रति वर्ष की दर से दी जाएगी ।

  1. पिछड़ा वर्ग (BC-A):-
    10th – 60% 70%

  1. पिछड़ा वर्ग (BC-B) :-
    10th- 75% 80%
    (BC-A & BC-B Cat.scholarship only for Matric class)
    पिछड़े वर्ग के छात्रों को Rs.8000/-की राशि प्रति वर्ष प्रदान की जाएगी ।
    # छात्रों के अभिभावकों की वार्षिक आय 4 लाख से अधिक नही होनी चाहिए ।
    # यह छात्रवृत्ति सभी सरकारी/गैर सरकारी मान्यता प्राप्त स्कूलों,कालेजों,संस्थाएँ व विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले छात्रों को अगली कक्षा में नियमित दाखिला लेने के बाद ही दी जाएगी । #ऑनलाइन आवेदन करने के बाद आवेदन की हार्ड कापी जमा करवाने की आवश्यकता नहीं है । आवेदन की आखिरी तारीख :-30/10/2020 है। छात्र दिनांक 11.09.2020 से 30.10.2020 तक आवेदन करें ताकि विभाग जल्दी से जल्दी आपको प्रोत्साहन राशि प्रदान कर सके।

अब नहीं काटने होंगे दफ्तर के चक्कर, घर बेठे देखे आपका courier कहा पहुँचा

डाक विभाग सूचना : अब पाेस्ट इन्फाे एप्लीकेशन पर एक क्लिक से जानिए आपका डाक और कोरियर कहां पहुंचा

डाक विभाग ने बनाई नई Application :-

डाक विभाग की सेवाओं का लाभ लेने वाले उपभाेक्ताओं के लिए खुशखबरी है। डाक विभाग ने विशेष एप्लीकेशन तैयार कराया है। जिसके माध्यम से आपका काेरियर या फिर डाक, चिट्ठी कहां पहुंची, एक क्लिक पर ही घर बैठे पता लगाया जा सकेगा। जल्द ही एप्लीकेशन में विभाग में निकाले जाने वाली वैकेंसी का ब्याेरा भी अपडेट किया जाएगा

पहले केसे होता था काम :-

अभी तक ऐसा हाेता था कि यदि किसी दूसरे प्रदेश या जिले से डाक, काेरियर आदि भेजी जाती थी ताे वह पहुंची या नहीं, इसकी जानकारी लेने के लिए लाेगाें काे डाक विभाग के चक्कर काटने हाेते थे। कई बार ताे चक्कर काटने के बाद भी सही जानकारी नहीं मिल पाती थी। हिसार डाक मंडल के अधीक्षक संजय कुमार ने बताया कि लाेगाें की सुविधा के लिए विभाग ने एन्फाे एप्लीकेशन नामक विशेष एप्लीकेशन तैयार किया है। जिसके अंदर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद घर बैठे ही काेरियर, चिट्टी या भेजे गए अन्य वस्तु का पता एक क्लिक पर ही लगाया जा सकेगा।

अब tracking का options भी दिया जाएगा :-

इसके लिए एप्लीकेशन में आर्टिकल ट्रेकिंग का ऑप्शन दिया है। जिसके माध्यम से यह पता लग जाएगा कि वर्तमान में आपका काेरियर किस स्थान पर पहुंच चुका है तथा कितने दिन व समय में काेरियर आपके जिला तक पहुंचेगा। खासियत यह है कि एप के माध्यम से देश के किसी भी डाकघर का पिन काेड भी पता किया जा सकता है। यदि किसी तरह की शिकायत की गई है ताे उसके निस्तारण का ब्याेरा भी एप पर हाेगा। एप के माध्यम से फीडबैक भी दिया जा सकता है। यदि काेई अधिकारी या कर्मचारी परेशान कर रहा है ताे एप्लीकेशन पर शिकायत की जाती है ताे विभागीय अधिकारी कार्रवाई कर सकेंगे। डाक विभाग के अधिकारी साेशल मीडिया के माध्यम से लाेगाें काे एप्लीकेशन के प्रति जागरूक कर रहे हैं।

सरकार का अत्याचार, किसानो पर लाठीचार्ज, जानिए पूरा मामला.

क्या था मामला :-

Center government की ओर से लाए गए तीन कृषि अध्यादेशों के विरोध में प्रदेशभर के किसानों ने वीरवार को जोरदार प्रदर्शन किया। रोक के बावजूद pipli में किसान बचाओ रैली के लिए बड़ी संख्या में किसान, व्यापारी और मजदूर पहुंचे तो उन्हें खदेड़ने के लिए police ने लाठीचार्ज किया। लाठीचार्ज के विरोध में किसानों ने police पर पथराव कर दिया। 

सख्ती से गुस्साए किसानों ने दिल्ली-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग जाम कर दिया और अपनी मांग पर अड़े रहे। एक घंटे तक जाम के बाद प्रशासन झुका और रैली की इजाजत दी। दोपहर 2:00 बजे किसानों ने पिपली अनाज मंडी में रैली शुरू की। हंगामे के दौरान कई किसान और पुलिसकर्मी चोटिल हो गए और मौके पर खड़ी फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गई।

हरियाणा सरकार ने पिपली में प्रस्तावित किसान बचाओ मंडी बचाओ रैली पर रोक लगा दी थी। पुलिस ने सभी जिलों में रैली में शामिल होने जा रहे किसानों को रोकने का प्रयास किया गया। इसके बावजूद भारी संख्या में किसान, व्यापारी, मजदूर रैली के लिए कुरुक्षेत्र पहुंचे। पुलिस ने उन्हें खदेड़ने के लिए बल का प्रयोग किया। गुस्साए किसानों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। एक घंटे तक दिल्ली-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर नीलोखेड़ी से शाहाबाद तक वाहनों की लंबी कतार लग

कब शुरु हुई रैली :-

सरकार ने किसानों को समझाने की कोशिश की लेकिन मांग पर अड़े रहे। आखिरकार प्रशासन को किसानों के आगे झुकना पड़ा और रैली करने की इजाजत दी। जाम के बाद दोपहर करीब दो बजे किसानों ने पिपली अनाज मंडी में पहुंचने पर रैली शुरू हुई। 

नहीं मानी मांग तो 15 से धरना :-
भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि सरकार ने अन्नदाता पर लाठीचार्ज कर गलत किया है। अब हम सरकार को चार दिन का समय देते है। चार दिन में सरकार तीनों अध्यादेशों को वापस लेने की बात मान लें, अगर सरकार उनकी बात नहीं मानती है तो प्रदेशभर के किसान 15 सितंबर से जिलास्तर पर धरना शुरू करेंगे।

कौन-से अध्यादेश है जिनका विरोध हो रहा है :-
पहले कानून के मुताबिक हर व्यापारी केवल मंडी से ही किसान की फसल खरीद सकता था। अब व्यापारी को इस कानून के तहत मंडी के बाहर से फसल खरीदने की छूट मिल जाएगी। अनाज, दालों, खाद्य तेल, प्याज, आलू आदि को जरूरी वस्तु अधिनियम से बाहर करके इसकी स्टॉक सीमा समाप्त कर दी गई है। सरकार कांट्रेक्ट फॉर्मिंग को बढावा देने की बात कह रही है।

एनएच-44 रहा जाम :-
जीटी रोड जाम खुलवाने पहुंचे पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने किसानों को समझाने का प्रयास किया, मगर वे तभी हटे जब बातचीत में रैली करने की permission मिली। इसके बाद पिपली मंडी के गेट खोले गए और रैली में हजारों किसान, व्यापारी और मजदूर शामिल हुए।

12th पास छात्र-छात्रों को मिलेगी scholarship अभी online apply करे.

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, भिवानी ने नोटिस भेजा है जिसमें लिखा है कि 12th पास छात्रों को scholarship दी जाएगी जिसके आवेदन शुरु हो चुके हैं

कौन कर सकता है आवेदन :-

  1. जिन विद्यार्थियों ने मार्च – 2020 की परीक्षा दी थी वही Apply कर सकते हैं
  2. परीक्षा मे 80% या इससे आधिक नंबर होना जरूरी है i
  3. March – 2020 से पहले के विद्यार्थियों को आवेदन नहीं होगा

कब से start है आवेदन :-

  1. आवेदन 16/8/2020 से start हो गए हैं
  2. HBSE की Official site पर उन सब बच्चों की लिस्ट डाल दी गयी है जो आवेदन करने के योग्य हैं
  3. सबसे पहले लिस्ट मे अपना नाम ढूंढ ले और तभी फॉर्म Apply करे

मानव संसाधन विकास मंत्रालय दिल्ली, द्वारा सेंट्रल सेक्टर स्कीम ऑफ scholarship के तहत कॉलेज और यूनिवर्सिटी स्टूडेंट को आवेदन करना होगा

अब passport verification होगी paperless, अब हर महिने बचेंगे 45 हज़ार पेपर

Digital युग में अब Haryana Police भी आपको Tab पर काम करती नजर आएगी। जिलाें में इसकी प्रक्रिया शुरू करते हुए passport verification को अब पूरी तरह से online paperless कर दिया गया है। इसके लिए रेवाड़ी distt. के 12 थानों एवं SP office के नोडल officer सहित 13 पुलिसकर्मियों को tab उपलब्ध कराए गए हैं। टैब मिलने के बाद पुलिस की तरफ से passport के लिए की जाने वाली verification अब पूरी तरह से पेपरलैस हो गई है।

तीन दिन में होगी वेरिफिकेशन,:-

Passport को verification को online करने की प्रक्रिया 2 साल पहले शुरू की थी, जब हरियाणा को विदेश मंत्रालय की तरफ passport Verification को तय समय में पूरा करने पर द्वितीय पुरस्कार दिया गया था। अब संबंधित बीट के पुलिसकर्मी को तीन दिन के अंदर यह Verification पूरी करके submit करनी होगी। हालांकि passport कार्यालय की तरफ से वेरिफिकेशन का समय 21 दिन तय है।

अब सीधे थाने से होगी वेरिफिकेशन :-

नए passport और renew के लिए आवेदन करने पर पहले passport कार्यालय की तरफ से संबंधित व्यक्ति की पुलिस वेरिफिकेशन की रिपोर्ट मेल से sp office भेजी जाती थी। SP office से report संबंधित थानों को भेजी जाती थी, प्रक्रिया में 10-12 दिन लग जाते थे। नई व्यवस्था में पासपोर्ट कार्यालय से सीधे संबंधित थानों में रिपोर्ट पहुंच जाएगी।

हरियाणा में स्कूल खोलने पर बनी सहमति September मे खुलेंगे स्कूल?

हरियाणा राज्य के लोग September मे स्कूल खोलने के पक्ष मे है राज्य के 85% अभिभावक चाहते हैं कि September मे स्कूल खोले जाए

पिछले कई महिनों से स्कूल और कॉलेज बंद हैं ऐेसे मे अब सरकार ने सभी अभिभावकों को अपनी राय देने की बात कही थी जिसमें करीब 76000 अभिभावकों ने हिसा लिया और अपनी राय दी जिसमें से 85% यही चाहते हैं कि September मे स्कूल खोले जाए

Palwal में सबसे अधिक और अंबाला में सबसे कम बनी सहमति corona काल के बाद सरकार ने य़ह सर्वे करवाया जिसमें लगभग हर जिले से लोगों ने अपनी राय दी

क्यों कराया सर्वे :-

अभिभावकों की राय लेने के लिए य़ह सर्वे करवाया गया सभी ने अपनी राय दी बहुत parents इस से सहमत की स्कूल खुले ऐेसे मे अगर स्कूल खुलते हैं तो कुछ नियमो का पालन करना होगा

क्या होगे नियम :-

  1. सभी बच्चों को social distance को follow करना होगा क्लास मे कुछ दूरी पर बच्चों को बिठाया जाएगा
  2. मास्क के बिना किसी को भी स्कूल मे एंट्री नहीं दी जाएगी
  3. स्कूल में एंट्री के समय सभी को proper senatize किया जाएगा
  4. स्कूल मे केवल 30% teacher को बुलाया जाएगा और 30% बच्चों को बुलाया जाएगा