CBSE मौजूदा समय में दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं रद्द करने को लेकर भारी दबाव का सामना कर रहा है.

दरअसल, कुछ पेरेंट्स ने  Corona virus के बढ़ते मालों को देखते हुए परीक्षाएं रद्द करने की मांग को लेकर SC का रुख किया है. जिसके बाद कोर्ट ने भी CBSE से इस बारे में जवाब मांगा है. माना जा रहा है कि बोर्ड इन परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला ले सकता है. लेकिन बात सिर्फ इतनी ही नहीं है, बल्कि परीक्षाएं रद्द करने का असर इंजीनियरिंग और मेडिकल की प्रवेश परीक्षाओं पर भी पड़ना तय है.
दरअसल,CBSE और ICSE BOARD की स्थगित परीक्षाओं को लेकर बनी असमंजस की स्थिति के बाद अब  CTET Exam,  JEE माइंस और NEET पर भी गतिरोध बनता नजर आ रहा है. ये सभी परीक्षाएं जुलाई में ही कराई जानी है. ऐसे में अगर 1 से 15 जुलाई तक प्रस्तावित सीबीएसई बोर्ड की दसवीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द की जाती हैं तो इन प्रवेश परीक्षाओं का टलना भी लगभग तय हो जाएगा.
देश के लाखों स्टूडेंट्स (CTET),  (JEE Mains) और (NEET) जैसी प्रवेश परीक्षाओं में हिस्सा लेते हैं. देश के अलग-अलग हिस्सों में इन परीक्षाओं के केंद्र बनाए जाते हैं. ऐसे में परीक्षार्थियों को कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आने से रोकना कम बड़ी चुनौती नहीं है. ऐसे में जबकि जुलाई में जेईई मेंस के बाद 23 अगस्त कोJEEएडवांस एग्जाम भी प्रस्तावित हैं तो इसके आयोजन को लेकर भी संकट के बादल मंडराते दिख रहे हैं.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *